संकट में Gehlot सरकार, Pilot के साथ 30 विधायक जानिए सीटों का गणित-Gehlot government in crisis

राजिस्थान में अशोक गेहलोत और सचिन पायलट के बीच सियासी लकीरें खींच गई हैं. न्यूज़ एजेंसी ANI के मुताबिक सचिन पायलट के पास 30 कांग्रेस विधायकों और कुछ निर्दलीयों का समर्थन है तो दूसरी ओर अशोक गेहलोत सरकार बचाने को लेकर आंकड़ेबाजी में जुट गए हैं.

कांग्रेस के पास राजिस्थान विधानसभा में 102 विधायक हैं, जिसमें एक राष्ट्रीय लोक दल का एक विधायक भी शामिल हैं. इस पूरे सियासी घमासान के बीच कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गाँधी ने रणदीप सूरजेवाल, अविनाश पांडेय और अजय माकन को जयपुर भेजने का फैसला लिया है. ये तीनों नेता जयपुर जाकर विधायकों से बात करेंगे.राज्य में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद कांग्रेस ने बीएसपी के 6 विधायकों को अपने पाले में खींच लिया और इस तरह कांग्रेस के पास 108 विधायकों का समर्थन है.

साथ ही 10 निर्दलीय और 2 भारतीय ट्राइबल पार्टी और दो सीपीआई एमएलए के विधायकों को मिलाकर कांग्रेस के पास 125 विधायकों का समर्थन है उधर बीजेपी के पास 72 बिधायको का समर्थन है जिसमें 3 बिधायक रास्ट्रीय लोक तांत्रिक पार्टी के है। ANI के अनुसार सचिन पायलेट के पास 30 बिधायको का समर्थन है।

इस तरह बर्तमान CM अशोक गेहलोत के लिए मुस्किले बढ़ जाती है।
वही बीजेपी के स्टेट प्रेसीडेन्ट सतीश पुनिया ने कहा कि कांग्रेस के बीच आंतरिक कलह ही इस विवाद की असली बजह है।

अशोक गेहलोत से नाराज सचिन पाइलट अभी दिल्ली में है और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गाँधी से मिलने का समय माँगा है ताकि गेहलोत की और से आ रही परेशानी के लेके चर्चा कर सके।
एक तरफ सचिन पायलट सोनिया गाँधी से मुलाकात का इंतज़ार कर रहे है दूसरी और अशोक गेहलोत अपने विधायको और मंत्रीओ पर निगाह रखे हुए है।


जहाँ नज़र हटी दुर्घटना घटी मतलब सरकार गिरी।राजिस्थान की सीमाओं पर सुरक्षा बड़ा दी गयी है और विधायकों को आवाजाही पर निगाह रखी जा रही है।इस पुरे मैं सबसे दिलचस्प ये है कि शनिवार को गेहलोत ने मीटिंग बुलाई थी लेकिन इस मीटिंग मैं सचिन पायलट के साथ -साथ उनके समर्थक विधायक भी शामिल नहीं हुए।

राजिस्थान मैं मची सियासी घमासान के बीच सभी की निगाहें अब कांग्रेस की टॉप लीडरशिप पर टिकी है देखना है कि राजिस्थान में अब कांग्रेस अपना पायलट बचा पायेगी या राजिस्थान में बीजेपी सरकार का पायलेट अब सचिन होंगे।

वही राजिस्थान कांग्रेस इंचार्ज अविनाश पांडेय का कहना है कांग्रेस सरकार मजबूत है और ये जो भी लोग है हम उनका मुकाबला करेंगे।

Share
Team Agra News

Published by
Team Agra News

Recent Posts

बांके बिहारी जी(Banke Bihari) का अलौकिक भक्त डाकू गोवर्धन

एक बार राजिस्थान मैं भागवत की कथा हो रही थी वही एक चोर जो हर…

3 weeks ago

Phone Pe Loan लेने के लिए क्या करें:

आज हम जानते है Phone Pe Loan कैसे ले सकते है । आज के माहौल मैं…

2 months ago

आगरा में अब 91 केंद्रों पर करा सकेंगे वेक्सिनेशन -The Agra News

आगरा न्यूज़ : आगरा में अब 91 केंद्रों पर युवा करा सकेंगे वेक्सिनेशन। युवाओ में…

2 months ago